मंगल और आम के उपाय

Spread the love

हनुमान जयंती – जैसे की हनुमान जयंती आ रही है, एक दिलचस्प उपाय है- जो केवल गर्मियों में किया जा सकता है और साथ ही बहुत आसान भी है- उपाय का सबसे अच्छा हिस्सा यह है – चार्ट में मंगल की स्थिति कोई भी हो- यह उपाय कोई भी कर सकता है।

यह उपाय न केवल मंगल के नकारात्मक प्रभाव को दूर करता है बल्कि अचानक परिणाम भी देता है- जब भी हम किसी ग्रह का उपाय करते हैं- उपाय करते समय उस ग्रह विशेष की ऊर्जा दिखाई देती है- उदाहरण के लिए आप कभी भी केतु का उपाय करेंगे – यह एक बार में नहीं होगा और उपाय करने में काफी बाधाएं आएंगी।

जब हम शनि का उपाय करते हैं- समस्या को हल करने के लिए धैर्य और दृढ़ता की आवश्यकता होती है, यह इस बात पर भी निर्भर करता है कि चार्ट में शनि कहां स्थित है- उपाय के ही दिन बहुत निराशा होगी और शनि के उपाय को परिणाम देने में भी लगभग 2 महीने लगते हैं। लेकिन मंगल ग्रह के साथ- परिणाम घंटों में या अधिकतम 2 दिनों में  आते हैं- आपको पता होना चाहिए कि उपाय ने काम किया है जैसा कि मैं हमेशा कहता हूं कि जब कोई ऊर्जा आपको छोड़ रही है- यह आपको अचानक कुछ टूटने जैसे संकेत देगा।

आइए अब मंगल के इस उपाय पर आते हैं – जिसे हम मंगलवार को कर सकते हैं और इसमें हमारा पसंदीदा फल आम भी शामिल है।

मंगल के उपाय

उपाय है- 1 आम लें और 7 बार हनुमान चालीसा का पाठ करें- इस आम को देवता मानकर चांदी के कटोरे में या कम से कम पत्तियों या किसी साफ धातु पर रखें- फिर गंगाजल की कुछ बूंदों के साथ- इस आम पर छिड़कें जैसे इस आम को स्नान कराएं और फिर मोली-लाल धागे की सहायता से पगड़ी बनाकर आम के सिर पर रखें और इस पर अग्गर बत्ती घूमा कर आम पर तिलक लगाएं और फिर इस आम को हनुमान जी के सिर से स्पर्श करें।

एक बार जब आपकी हनुमान चालीसा पूरी हो जाए- तो घर के मुखिया को यह आम दे आये ,यदि आप मूल कुटुंब के हैं, तो इसे बंदरों या पक्षियों के लिए छत या बालकनी पर रखें।

यह उपाय आपके घर या आपकी कुंडली में मंगल की किसी भी नकारात्मक ऊर्जा को शांत करेगा। यह उपाय साल भर शांति सुनिश्चित करने और यह सुनिश्चित करने के लिए किया जाता है कि किसी को चोट न पहुंचे।

हनुमान जयंती की शुभकामनांए- साथ ही 21 दिनों तक रोजाना 7 बार हनुमान चालीसा का उपाय भी समस्या से छुटकारा पाने के लिए शुरू किया जा सकता है।

Leave a Reply